नमस्कार


आज मैं जिस विषय में तथ्य रख रही हूं काफी सोचने का विषय हो गया है। पिछले कुछ दिनों से आप न्यूज़ में सुनते आ रहे हैं चीन सिक्किम और लद्दाख के कुछ भाग पर अपना हक बता रहा है । हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने इसी कोविड-19 महामारी के दौरान हमें एक‌ आदर्श वाक्य दिया है संपूर्ण भारत को आत्मनिर्भर बनाने का अर्थात स्वाबलंबी बनने का। हम सबको मिलकर यह चीन को बताना होगा

यह 1970 का भारत नहीं बल्कि नया भारत है |और इसकी कमान माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के हाथ में जो कुशलता के साथ भारत को प्रगतिशील देश बनाने में प्रयत्नशील है।हमारे यूथ को वह सॉफ्टवेयर जैसे कि टिक टॉक देकर के गुमराह करने की कोशिश किया जा रहा है |और हमारे ही सामान के पैसों का इस्तेमाल वह हमारे ही खिलाफ करके हमारे ऊपर चढ़ाई करने की कोशिश कर रहा है ।
सोचने का समय है कोशिश हमें यह करनी है जल्द से जल्द चाइना के सामानों का हम बॉयकॉट करे जो हम समान प्रयोग में ला रहे थे उसके बदले में भारत पर निर्भर होकर के भारत का सामान खरीदे । सरकार ने इसे बढ़ावा देने के लिए पॉलिसी बनाई है ताकि व्यवसाई को बढ़ावा मिले एमएसएमई के अंतर्गत लोन मुहैया कराने का भी प्रावधान किया है मतलब स्पष्ट है कि हमें खुद पर आत्मनिर्भर होना है I

भारत सरकार की इस मुहिम आत्मनिर्भर भारत को सफल बनाने के लिए हमारी 130 करोड़ की जनता को एक साथ प्रयास करना होगा | सरकार 20 लाख करोड़ का जो पैकेज हमारे हर परिवार के लिए इस कोरोना महामारी के संकट में घोषित किया है| इसका प्रयोग कहीं ना कहीं हमें हमारी आत्मनिर्भरता को बढ़ावा देने के सोच को जमीन पर लाने के लिए किया गया है।
आत्मनिर्भर भारत ,आत्मनिर्भर बिहार।।

जय हिंद II